The Blog

cropped-LetterBox-1-2.jpgYou’d have often come across this quaint little red box standing innocuously on the side of the road. Absorbed in its own thoughts, wearing a reflective expression. After all, it is just not letters that it carries inside, but an ocean of emotions.

Littleredbox, the blog is also about letters written in the ink of emotions. Letters written to people, things, places, events and even moments. To everything that we love dearly and miss sorely.

It is our way to tell them – without you, our life is a bit incomplete. A shade less colorful, a note less musical. There is and always be a part of us, which could be fulfilled only by you.

Littleredbox – letters of love, longing and life.


 

cropped-LetterBox-1-2.jpgहम सभी ने आते-जाते, सड़क के किनारे खड़े उस छोटे से लाल डिब्बे को अवश्य देखा होगा. चुप-चुप सा, हरदम कुछ सोचता हुआ सा लगता है. शायद इसलिए, क्योंकि अपने अंदर वो सिर्फ़ चिट्ठियाँ नहीं, अहसासों का समंदर संजोये रहता है.

हमारे ब्लॉग, लिटिल रेड बॉक्स के लिफ़ाफ़े के अन्दर भी अहसासों की कलम से लिखी चिट्ठियाँ हैं. चिट्ठियाँ जो लोगों, जगहों, चीज़ों और लम्हों को लिखी गई हैं…हर उस बात को लिखी गई हैं, जिसे हम प्यार करते हैं, शिद्दत से याद करते हैं.

उस तक संदेश पहुंचाने का यह हमारा अपना तरीका है कि तुम बिन जीवन कुछ बेरंग, कुछ बेसुरा, कुछ अधूरा सा लगता है. दिल के अन्दर एक खाली हिस्सा ऐसा है, जो सिर्फ़ तुमसे ही पूरा हो सकता है…

लिटिल रेड बॉक्स – चिट्ठियों के रास्ते, दिल की बातें

 

(Visited 52 times, 1 visits today)