चलो ज़िन्दगी मनाएं

चलो ज़िन्दगी मनाएं उतार फेंको बड़प्पन का नक़ाब समझदारी और सोफिस्टिकेशन को जीभ चिढ़ाओ आज किसी बच्चे की नज़र से ज़िन्दगी को देखो बड़ी खूबसूरत नज़र आएगी जनाब! ये नकाब पहनकर हासिल ही क्या हुआ है हर अपना हमसे रूठ […]

Continue Reading

गणपति उत्सव

प्यारे बचपन के गणपति उत्सव, ये बाप्पा में भी जाने क्या जादू है. उनके आने की आहट से ही दिल खुशियों से भर जाता है. अभी भी और बचपन की तो खैर बात ही क्या थी! महीनों पहले से ही इवेंट […]

Continue Reading

Photo Studio

  प्यारे स्टूडियो फ़ोटोज़, हर घर में, अलमारी के ऊपर या पलंगपेटी के अन्दर दबे फैमिली अलबम में, तुम्हारा बसेरा है. हमारी कितनी ही रंगीन यादें तुम्हारी पीले पड़ चुके टेक्सचर से जुडी हुई हैं. जन्मदिन हो, नई-नवेली शादी हुई […]

Continue Reading

ये ज़मीन ये आसमां….हमारा कल, हमारा आज….हमारा बजाज

  प्यारी बजाज स्कूटर, ये ज़मीन ये आसमां….हमारा कल, हमारा आज….हमारा बजाज! तुम्हारा नाम पढ़ते ही कौन ऐसा होगा जिसके मन में यह गीत नहीं गूंजता होगा. एक समय था जब शहरों, गांवों, कस्बों, हर कहीं तुम्हारा राज था. तुमने […]

Continue Reading

Silai Machine

[AdSense-A]   प्यारी सिलाई मशीन, माँ ने बड़े प्यार से सिले थे कुछ सपने तुम पर…इठलाते-फिरते थे हम जिन्हें पहनकर….वो फ्रॉक, वो झबले वो, वो बनियान, बुश शर्ट…आज भी उनकी नरमाहट याद आती है. घर के कोने में उषा, सिंगर, […]

Continue Reading

दोस्तों के साथ किया एक रेल सफ़र, एक गड़बड़ी और ढेर सारा एडवेंचर

[AdSense-A] विवेक भावसार जी है Little Red Box के कू – छुक – छुक कांटेस्ट के winner. पेश है उनकी पुरस्कृत प्रविष्ठी,   वैसे तो रेल से सफ़र करने का मौका मुझे ज़्यादा नहीं मिला है, पर उसमें एक अनुभव […]

Continue Reading

My Rail To Bilaspur

  [AdSense-A]   Parul Wagh is one of the winners of the Koo-Chhuk-Chhuk Contest by Little Red Box. This is her prize winning entry. Dear Rail, I have loved your chhuk-chhuk since my early years. Your colorful red compartments trailing […]

Continue Reading

Bachpan Ki Barish

[AdSense-A]     [AdSense-A] प्यारी बचपन की बारिश, खिड़की के बाहर रिमझिम बारिश…हाथ में कॉफ़ी का प्याला…सामने प्लेट से उठती गरमागरम भजियों की खुशबू…रेडियो पर चलता ‘इक लड़की भीगी भागी सी’ गाना…बारिश का मौसम कितना ऑसम होता है ना! उठकर […]

Continue Reading

School Ka Pehla Din

[AdSense-A] प्यारे स्कूल के पहले दिन जैसे-जैसे गर्मी की छुट्टियाँ खत्म होने लगती तुम्हारा टेंशन सताने लगता था. यूँ लगता था कि मानो जिससे पुराना उधार लिया हो, वह वापिस वसूल करने आने वाला हो. फिर वही पढ़ाई, किताबें, होमवर्क, […]

Continue Reading

Koo-chhuk-chhuk Contest Mein Bhag Lijiye Aur Jitiye!!

वो धड़क-धड़क दौड़ता डब्बा… वो रंग-बिरंगे सहयात्री… वो चाय – चाय की अावाज़ें… वो सूटकेस पर ताश की बाज़ियां… हम सबके दिलों में रेल के सफर की अनगिणत यादें बसी हुई है…तो बस उन्हें हरी झंडी दिखाइए और लिख भेजिए […]

Continue Reading